Sunday, 1 September 2019

कोलेस्ट्रॉल घटाने के घरेलू आयुर्वेदिक सुझाव - Domestic Ayurvedic Tips To Lower Cholesterol [ayurvedicsujhav ]

Hello dosto Namskar 
 आज के दिनो में कोलेस्ट्रोल बढ़ना सामान्य problems हो गई है। कोलेस्ट्रॉल level बढ़ने से बहुत ही खतरनाक बीमारियां हो सकती है जैसे हार्ट अटैक होने की संभावना काफी अधिक हो जाते हैं ।क्योंकि कोलेस्ट्रोल हृदय की रक्त वाहिनियो में जमा हो जाता हैं। जिससे हृदय में रक्त ठीक से पहुंच नहीं पाता है इस कारण हार्ट अटैक समस्या बढ़ जाती है। कोलस्ट्रोल बढ़ने से आंखों पर बुरा प्रभाव पड़ता है आंखों की रोशनी कम होने की संभावना बढ जाती है। कोलेस्ट्रॉल level बढ़ने से मानसिक समस्या भी बढ़ती है।
कोलस्ट्रोल बढ़ने के अनेक कारण हो सकते हैं जैसे- life में ज्यादा तनाव होने व मेहनत के कार्य न करने से कोलेस्ट्रॉल लेवल पड़ने की संभावना भी बढ़ जाती है। कोलेस्ट्रोल बढ़ाने में सबसे महत्वपूर्ण हमारी खाने-पीने की खराब आदत होती है। यदि हम बुरे कोलेस्ट्रॉल (LDL)  के लेवल को कम करना है तो खाने पीने की डाइट और जीवन जीने की life style  में कुछ जरूरी चेंज करने होंगे।
तो आज मैं आपको बताएंगे कि कोलेस्ट्रोल घटाने के आयुर्वेदिक सुझाव जिनका दैनिक जीवन में उपयोग कर कोलेस्ट्रॉल कम कर सकते हैं।


कोलेस्ट्रॉल घटाने के घरेलू आयुर्वेदिक सुझाव ( Domestic Ayurvedic Tips To Lower Cholesterol )


1.धनिया की सहायता से cholesterol कम करना - 

धनिया के बीज बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होते हैं। यह आसान और सबसे बढ़िया तरीका है। एक आधा लीटर पानी में दो चम्मच धनिया के बीजों को पानी में उबालकर छान लें अब इसे ठंडा होने दें। ठंडा होने के बाद यह काढ़ा बन जाता है। इसे काढे को दिन में दो-तीन बार सेवन करें ऐसा करने से कुछ ही दिनों में शरीर का बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल कम हो जाएगा।

2. फाइबर युक्त चीजो के सेवन से cholesterol कम करना - 

अपने भोजन में फाइबर की मात्रा बढ़ाने होगी। फाइबर अपने साथ cholesterol के कणों को शरीर से बाहर करने और इस तरीके Cholesterol के level को कम करने में मददगार होते हैं। फाइबर मुख्य रूप से ओट्स, जौ, शंकरकंद, एप्पल, और बींस में काफी मात्रा में होते हैं। इसके अलावा गाजर, संतरे, नाशपाति भी फाइबर के स्रोत है ।
ऐसा करने से कुछ ही दिनों में शरीर का बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल कम हो जाएगा।

3.आंवला की सहायता से cholesterol कम करना -

आंवला एक प्रकार का आयुर्वेदिक औषधि है। जो अनेक प्रकार की औषधि दवा के रूप में काम आता है। आप जानते हैं कि आंवले में विटामिन सी की अच्छी मात्रा उपस्थित होती है तथा इसके साथ ही आंवले में अच्छी एंटीऑक्सीडेंड और खनिज लवणों का भंडार होता है। आंवला भोजन में उपस्थित cholesterol को अवशोषित कर शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से रोकता है वह अच्छे cholesterol (HDL) के स्तर को बढ़ाने में Help करता है। आंवले के नियमित सेवन से cholesterol को कम किया जा सकता है

4. पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स के सेवन से cholesterol कम करना -

फैट्स के प्रकार के होते हैं। अनसैचुरेटेड फैट्स लाभदायक होते हैं। जबकि सैचुएटेड फैक्ट्स लाभदायक नहीं होते हैं। पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स एक अनसैचुरेटेड फैट का ही भाग है।
पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स Cholesterol के level को कम कर दिल की बीमारियों के खतरे से भी बचाता है पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स मछली में सबसे ज्यादा मिलता है । शाहाकारी लोगों के लिए अखरोट व अलसी का सेवन कर सकते हैं। इनमे भी पॉलीअनसैचुरेटेड फैट्स काफी मात्रा में होता है। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में शरीर का बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल कम हो जाएगा।

5.पालक की सहायता से cholesterol कम करना - 

इस पत्तेदार पालक में बहुत अधिक मात्रा में ल्युटिन पाया जाता है। यह पत्तेदार हरा पालक धमनियों में cholesterol को एकत्रित होने से रोकता है। इसके लिए आपको ल्युटिन युक्त हरे पालक का सेवन करना चाहिए हमारे शरीर में ल्युटिन की मात्रा की पूर्ति करता है। वह कोलेस्ट्रोल बढ़ने से रोकता है।
ऐसा करने से कुछ ही दिनों में शरीर का बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल कम हो जाएगा।

6.प्लांट प्रोटीन का सेवन से cholesterol कम करना - 

प्लांट प्रोटीन से मतलब ऐसा प्रोटीन जो वनस्पतियो या पौधों से मिलता है न की वह जो डेयरी पदार्थों अंडो या नॉनवेज जैसी चीजो से। यह प्रोटीन दाल और सोयाबीन राजमा चन्ना मूंगफली बादाम आदि से पर्याप्त मात्रा में प्राप्त किया जा सकता है। इसमें बेड कोलेस्ट्रोल के लेवल को कम करने में सहायता मिलती है।
ऐसा करने से कुछ ही दिनों में शरीर का बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रोल कम हो जाएगा।

7. Daily exercise से  cholesterol levels को कम करना -

Exercise से वजन Control के साथ - साथ LDL जैसे खराब cholesterol का level भी कम होगा अगर आप एक्साइज नहीं कर सकते तो कम से कम आधे घंटे के लिए मॉर्निंग वॉक का समय तो जरूर निकाल सकते हैं। इसके अलावा छोटे छोटे काम के लिए वाहन का इस्तेमाल कम करने और लिफ्ट की जगह सीढियो का उपयोग बढ़ाकर भी आप कोलेस्ट्रेल के लेवल को कम कर सकते हैं

8. ट्रांसफैट का सेवन कम करके cholesterol levels को कम करना - 

ट्रांसफैट एक तरह का सैचुरेटेड फैट होता है जो health के लिए अच्छा नहीं है। ट्रांसफैट मुख्य रूप से डीप फ्राइड बेक्ड और क्रीम वाली चीजों में होता है। इसके लगातार सेवन से LDL जैसा बुरा cholesterol बढ़ता है तथा HDL जैसा अच्छा cholesterol level कम होता है। इसलिए जितना हो सके डीप फ्राइड  क्रीम ली चीजें का सेवन कम करें


Previous Post
Next Post

0 Comments: